क्यों लोग सरकारी नौकरियों को प्राथमिकता देते हैं - सरकारी नौकरी के लाभ!!

Nirmal Jangid6 months ago 390 Views
NEW why people prefer to government jobs

आज हमारे देश में सभी युवाओं का एकमात्र लक्ष्य सरकारी नौकरी पाना होता है। जैसे ही कैरीयर को सिक्योर बनाने की बात आती है, वहां अधिकतर युवाओं का पहला ऑप्शन सरकारी नौकरी है।  MBA, MBBS और इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करने के बाद भी युवाओं के अंदर SSC, UPSC, PSC, बैंक, रेलवे, पुलिस जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं में संघर्ष करना उनके सरकारी नौकरी के प्रति क्रेज को दर्शाता है। 

इसके अलावा वर्तमान में सरकार हर साल कई सरकारी विभागों / मंत्रालयों में ग्रुप-C और ग्रुप-D के जरिये टीचर, कांस्टेबल, क्लर्क, जूनियर स्टेनोग्राफर, पोस्टमैन, सिक्योरिटी गार्ड, पियोन आदि पदों पर 8वीं, 10वीं, 12वीं पास उम्मीदवारों को सरकारी नौकरी द्वारा सम्मानित और उन्नति के अवसर भी प्रदान करती है। 

जैसा की हम जानते हैं की आज के इस आधुनिक युग में आर्थिक सुरक्षा नौकरी पर निर्भर करती है, ऐसे में सरकारी नौकरी आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के साथ जीवन को आसान बनाने के लिए अनेकों सुविधाएं देती है। 

सरकारी नौकरी होने पर किसी भी बैंक, वित्तीय संस्था और भारतीय जीवन बीमा निगम से ऋण की सुविधा भी आसानी से मिल जाती है ! जहां एक ओर सरकारी नौकरी में अनेकों छुट्टियां मिलती है वही सरकारी खर्च पर ऑफिस टूर, मेडिकल सर्विस भी मिल जाती है !

सरकारी नौकरी से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए अंत तक पढ़ें ↴

युवाओं की पहली पसंद गवर्नमेंट जॉब ही क्यों?

क्या आपने कभी यह विचार किया है कि क्यों भारत में SSC, UPSC, RPSC, बैंक, पुलिस, रेलवे जैसी सरकारी नौकरियों को लेकर उम्मीदवारों में कभी न समाप्त होने वाली चाहत रहती है? ऐसा क्या कारण है जिससे देश के योग्य युवा वर्ग प्राइवेट नौकरी की तुलना में सरकारी नौकरी के पीछे अधिक आकर्षित होते हैं।

यदि आप इसके पीछे का कारण जानना चाहते हैं, तो आज यहां हम आपको कुछ खास बातों को संक्षिप्त में बताने का प्रयास करेंगे।

जैसा की सभी जानते है कि भारत में, गवर्नमेंट सेक्टर सबसे बड़ी संख्या में रोजगार देने वाले सेक्टरों में से एक है और हर साल लाखों उम्मीदवारों को इस सेक्टर में शामिल होने और सरकारी कर्मचारी बनने का अवसर प्रदान किया जाता है। अधिकांश उम्मीदवारों को ज्यादातर मामलों में विभिन्न परीक्षाओं के पैटर्न के बारे में तो विस्तृत जानकारी होती है लेकिन वेतनमान और मिलने वाले भत्ते, लाभों के बारे में कम ही जानकारी होती है।

सामाजिक प्रतिष्ठा!   नौकरी की सुरक्षा!   काम करने के अनुकूल घंटे!   आकर्षक वेतन एवं भत्ते!   लाभ, योजनाएं एवं रसद!   प्रोन्नति व विकास की संभावनाएं!

ये कुछ ऐसे खास फायदे हैं, जिन्हें पाने का आनंद लेने के सपने हर उम्मीदवार देखता है। आइए इन्हें नीचे विस्तार से जानते हैं ↴

सामाजिक प्रतिष्ठा -

सरकारी नौकरी का महत्व केवल उच्च वेतन से ही नहीं, बल्कि देश और समाज में मान-सम्मान से भी है। सरकारी नौकरी एक प्रतिष्ठित पहचान के साथ सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ाती है।

जॉब सिक्योरिटी -

गवर्नमेंट सेक्टर में कर्मचारियों के लिए 100% नौकरी की सुरक्षा होती है, जिसे हम LIC योजना से भी समझ सकते है- जीवन के साथ भी और जीवन के बाद भी।

काम और पर्सनल लाइफ बैलेंस -

सरकारी नौकरी में निर्धारित कार्य घंटों के साथ, काम और पर्सनल लाइफ के बीच उचित संतुलन हो पाता है।

आकर्षक वेतन एवं भत्तें-

 सरकारी नौकरी में चाहे उच्च पद हो या निम्न पद, सभी पर 7वें वेतन आयोग के अनुसार (1-18) लेवल तक वित्तीय सुरक्षा के साथ आकर्षक वेतन पाने का अवसर मिलता है। साथ ही मकान किराया भत्ता (HRA), महंगाई भत्ता (DA), सिटी कंपनसेटरी एलाउंस (CCA), यात्रा भत्ता (DA) और अन्य मासिक भत्ते मिलते हैं।

लाभ और योजनाएं -

सरकारी नौकरी में सफल उम्मीदवारों को पेंशन योजना, एकमुश्त भुगतान का विकल्प, मृत्यु/रिटायरमेंट सब्सिडी, जनरल प्रोविडेंट फंड, कंट्रीब्यूटरी प्रोविडेंट फंड, छुट्टी का नकदीकरण, बीमा योजना आदि लाभ प्राप्त होते हैं।

प्रमोशन और विकास -

प्रतियोगी परीक्षाओं को उत्तीर्ण करना और किसी भी सम्मानजनक संगठन में शामिल होना उम्मीदवारों को उपलब्धि, विकास और संतोष की भावना देता है। साथ ही सरकारी नौकरी में प्रोत्साहन राशि मिलने के साथ निरतंर प्रमोशन भी किया जाता है।

भारत की प्रमुख प्रतियोगी परीक्षाएं

भारत में कुछ ऐसी प्रतिष्ठित केंद्रीय और राज्य स्तरीय प्रतियोगी परीक्षाएं है जिन पर सभी 10वीं, 12वीं, ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट, इंजीनियरिंग, डिप्लोमा पास उम्मीदवार सरकारी नौकरी पाना चाहते हैं। नीचे दर्शाए गई उन सभी प्रमुख प्रतियोगी परीक्षाओं की लिस्ट है जो देश में हर साल सरकार द्वारा आयोजित की जाती है।

उम्मीदवार अपनी योग्यता के आधार पर नीचे बताई गयी परीक्षा और पदों में से चुन सकते हैं और संबंधित परीक्षा के लिए भर्ती महत्वपूर्ण मानदंड प्राप्त कर सकते हैं ↴

प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए सब्जेक्ट-वाइज सिलेबस

अधिकतर प्रतियोगी परीक्षाओं की चयन प्रक्रिया में प्रथम चरण-लिखित परीक्षा (CBT टेस्ट) को शामिल किया जाता है। सरकारी परीक्षाओं में CBT का सिलेबस बहुत बड़ा है लेकिन कुछ ऐसे सामान्य विषय है जो लगभग सभी प्रमुख प्रतियोगी परीक्षाओं का हिस्सा है।

इनमें से प्रत्येक सेक्शन के लिए सिलेबस की नीचे चर्चा की गई है –

A. रीज़निंग एबिलिटी एंड जनरल इंटेलिजेंस -

रीज़निंग एबिलिटी को परीक्षा के सबसे अधिक स्कोरिंग सेक्शन में से एक माना जाता है। यह सेक्शन परीक्षार्थी की सोचने और प्रश्नों को हल करने की योग्यता का परीक्षण करता है। इस सेक्शन से पूछे गए प्रश्न मुख्य रूप से ब्रेन-टीज़र प्रकार के होते है और कभी-कभी इनके उत्तर देना काफी मुश्किल भी होता है।

रीजनिंग सब्जेक्ट को तीन विस्तृत श्रेणियों में वर्गीकृत किया जा सकता है:-

  • वर्बल रीजनिंग
  • नॉन-वर्बल रीजनिंग
  • लॉजिकल रीजनिंग 

उम्मीदवार यहां रीजनिंग सब्जेक्ट के लिए विस्तृत सिलेबल प्राप्त कर सकते हैं और यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि प्रत्येक विषय ठीक से और विस्तार से कवर किया गया है। 

साथ ही, हमने निम्न टेबल में रीजनिंग सब्जेक्ट के लिए श्रेणी अनुसार प्रश्न-उत्तर प्रदान किये है। इच्छुक उम्मीदवार लिंक किए गए ब्लॉग पर जा सकते हैं और प्रत्येक सेक्शन पर आधारित अधिक से अधिक प्रश्नों को हल कर सकते हैं।


B. मैथेमेटिकल -

लगभग सभी सरकारी परीक्षाओं में शामिल किए जाने वाले सबसे लंबे और सबसे जटिल सेक्शन में से एक मैथेमेटिकल सेक्शन है। इस सेक्शन को दो विस्तृत श्रेणियों में वर्गीकृत किया जा सकता है:-

  • क्वानटेटिव एबिलिटी 
  • एटीट्यूड

क्वानटेटिव एटीट्यूड के लिए यहां आप विस्तृत सिलेबल की जांच कर बुनियादी ज्ञान हासिल कर सकते हैं।

इस सेक्शन में शामिल टॉपिक्स की लिस्ट प्राप्त करने के लिए, उम्मीदवार क्वानटेटिव एबिलिटी और एटीट्यूड पर जा सकते हैं और अपनी तैयारी शुरू कर सकते हैं।


C. जनरल नॉलेज (GK) -

सामान्य ज्ञान (जीके) सेक्शन के सिलेबस की कोई सीमा नहीं है। देश में आयोजित किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में जीके सेक्शन, उसके सिलेबस के एक भाग के रूप में होता है। साथ ही परीक्षा की तैयारी कर रहें, प्रत्येक उम्मीदवार को जीके का बुनियादी ज्ञान होना आवश्यक है।

इस सेक्शन को तीन विस्तृत श्रेणियों में बांटा जा सकता है:-

  • जनरल नॉलेज
  • जनरल अवेयरनेस
  • करंट अफेयर्स

जीके सेक्शन के लिए यहां आप विस्तृत सिलेबल के साथ करंट अफेयर्स की जांच कर सकते हैं।

उम्मीदवार जीके की बेहतर तैयारी के लिए नीचे दिए गए विभिन्न लिंक्स से प्रश्नों को हल कर सकते हैं।


D. इंग्लिश -

लगभग सभी सरकारी परीक्षाओं का एक हिस्सा, अंग्रेजी सेक्शन वह होता है, जहां उम्मीदवार अधिकतम अंक खो देते हैं। अंग्रजी सेक्शन का उद्देश्य उम्मीदवार की बुनियादी समझ, अंग्रेजी भाषा के सही व्याकरण उपयोग, शब्दावली उपयोग और लेखन क्षमता की जांच करना होता है। साथ ही इंग्लिश जितनी रिटर्न एग्जाम को पास करने के लिए आवश्यक है उतनी ही इंटरव्यू राउंड को क्रैक करने के लिए भी काफी महत्वपूर्ण है।

इंग्लिश सेक्शन के विस्तृत सिलेबस के लिए इस लिंक पर जा सकते हैं।

उम्मीदवारों को विशेष रूप से टेंस, प्रपोजिशन, कंजक्शन, नाउन, एक्टिव पैसिव वॉइस, डायरेक्ट एंड इनडायरेक्ट स्पीच आदि के नियमों पर विशेष ध्यान देना चाहिए। यह उन कुछ सेक्शनों में से एक है जिनसे प्रश्न केवल ऑब्जेक्टिव टाइप में ही नहीं पूछे जाते हैं बल्कि कुछ परीक्षाओं के लिए इंग्लिश में डिस्क्रिप्टिव टेस्ट भी होते हैं।

निष्कर्ष:

दोस्तों, आज इस ब्लॉग के पीछे मेरा उद्देश्य आपको यह बताना था की शिक्षा के बाद हर व्यक्ति का सपना एक रेपुटेड पोस्ट, अच्छी सैलेरी के साथ सिक्योर जॉब पाना होता है। लेकिन यह सबकी अपनी पसंद पर डिपेंड करता है की आप गवर्नमेंट और प्राइवेट जॉब में से किसे ज्यादा प्रायोरिटी देते हैं। यहां ब्लॉग में मैंने गवर्नमेंट जॉब के कुछ बेनिफिट्स के साथ मोस्टली कॉम्पिटिटिव एग्जाम की लिस्ट और उनके सिलेबस के बारे में जानकारी प्रदान की है।

आशा है की यह ब्लॉग आपको गवर्नमेंट जॉब्स से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी देने में सहायक होगा। किसी भी अन्य सहायता के लिए, उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे Examsbook की ओर रुख करें और विभिन्न भर्ती परीक्षाओं के लेटेस्ट नोटिफिकेशन और स्टडी मैटेरियल प्राप्त करें।

धन्यवाद!!

Choose from these tabs.

You may also like

  Report Error: क्यों लोग सरकारी नौकरियों को प्राथमिकता देते हैं - सरकारी नौकरी के लाभ!!

Please Enter Message
Error Reported Successfully