RRB NTPC एग्जाम पैटर्न

2 months ago 9.2K Views
rrb ntpc exam pattern 2019

यदि आप रेलवे एनटीपीसी(NTPC) परीक्षा के लिए दिन-रात पढ़ाई में व्यस्त रहते हैं, तो आपको यह जानना आवश्यक हैं कि NTPC का एग्जाम पैटर्न कैसा होता हैं? साथ ही किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले, परीक्षा पैटर्न को समझना जरुरी होता हैं। अगर आप आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा में उच्च अंक प्राप्त करने की योजना बना रहे हैं तो आपको आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा पैटर्न को पूरी तरह जानने की आवश्यकता है।

परीक्षा पैटर्न हमें आगामी परीक्षा के लिए एक अध्ययन योजना बनाने में कई महत्वपूर्ण जानकारियां जैसे - परीक्षा का प्रकार, पेपर मोड, भाषा, परीक्षा पैटर्न अवधि, प्रश्नों के प्रकार, मार्किंग स्कीम आदि प्रदान करता है। जिससे की हमे अच्छे मार्क्स प्राप्त करने मे सहायता मिलती हैं। 

परीक्षा पैटर्न को पूरी तरह समझने के बाद, आप रेलवे जीके प्रश्न और उत्तर की सहायता से अपनी प्रेक्टिस शुरू कर सकते हैं।

आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा पैटर्न:

RRB NTPC परीक्षा पैटर्न को चार चरणों में विभाजित किया गया हैं:

(1) कंप्यूटर आधारित टेस्ट (CBT - 1)

(2) कंप्यूटर आधारित टेस्ट (CBT - 2)

(3) टाइपिंग स्किल टेस्ट / कंप्यूटर-आधारित एप्टीट्यूड टेस्ट (पदों के अनुसार)

(4) दस्तावेज़ सत्यापन / चिकित्सा परीक्षा 

आप नीचे RRB NTPC परीक्षा पैटर्न का पूरा विवरण देख सकते हैं:-

(1) कंप्यूटर आधारित टेस्ट (CBT - 1) – सभी अधिसूचित पदों के लिए सामान्य टेस्ट।

Exam Duration

in minutes

No. of Questions (each of 1 mark) from


General Awareness

Mathematics

General Intelligence and Reasoning

Total No. of Questions

90

40

30

30

100

बता दें कि परीक्षा मे पूछे गये सभी प्रश्न कई विकल्पो के साथ वस्तुनिष्ठ प्रकार के होते हैं।

  • पहले चरण सीबीटी -1 परीक्षा में समान्यीकृत(नॉर्मलाइज़ेशन) अंकों और योग्यता के आधार पर उम्मीदवारों को दूसरे चरण मे शोर्ट लिस्ट किया जाता हैं।
  • विभिन्न श्रेणियों मे सभी पात्र उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम प्रतिशत अंक: UR-40%, EWS-40%, OBC (नॉन क्रीमी लेयर) -30%, SC-30%, ST-30%।
  • कंप्यूटर आधारित टेस्ट(CBT ) -1 मे कुल 100 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • परीक्षा की अवधि सीमा पात्र PwBD उम्मीदवारों के लिए 90 मिनट(1.5 घंटा) होगी।
  • परीक्षा में दर्शित प्रश्न के प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1/3 अंक की नैगेटिव मार्किंग की जाती हैं। 

आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा के पहले चरण (सीबीटी 1) में 3 विषयों जैसे गणित, जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस को शामिल किया जाता हैं। 

(2) कंप्यूटर आधारित टेस्ट (CBT - 2):

आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा के दूसरे चरण(सीबीटी 2) में 3 विषय शामिल होते हैं जो गणित, जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस होते हैं। लेकिन सीबीटी 2 एग्जाम का लेवल पहले चरण की तुलना में अधिक कठिन होता हैं।

Exam Duration

in minutes

No. of Questions (each of 1 mark) from


General Awareness

Mathematics

General Intelligence and Reasoning

Total No. of Questions

90

40

35

35

120

बता दें कि परीक्षा मे पूछे गये सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ प्रकार के होते हैं।

  • कंप्यूटर आधारित टेस्ट(CBT ) -2 मे कुल 120 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • परीक्षा की अवधि सीमा पात्र PwBD उम्मीदवारों के लिए 120 मिनट(2 घंटा) होगी।
  • परीक्षा में दर्शित प्रश्न के प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1/3 अंक की नैगेटिव मार्किंग की जाती हैं। 
  • विभिन्न स्तरों पर होने वाले पदों के लिए प्रश्नों का स्तर अलग-अलग होता हैं।

(3) टाइपिंग स्किल टेस्ट: 

RRB एनटीपीसी का तीसरे चरण (स्किल टेस्ट) मुख्य रुप से कम्प्युटर बेस होता हैं। इमसे उम्मीदवारों को निश्चित मापदंडो का अनुसरण करना होता हैं, वह निम्न प्रकार से हैं-

  • उम्मीदवारों को तीसरे चरण में बिना किसी एडिटिंग टूल के अंग्रेजी में 30 शब्द प्रति मिनट (WPM) या हिंदी में 25 WPM शब्द टाइप करने में सक्षम होना जरुरी हैं।
  • दिशानिर्देशों के अनुसार हिंदी में टाइपिंग स्किल टेस्ट के लिए आने वालों उम्मीदवारों को कृति देव और मंगल फॉन्ट में कंप्यूटर पर टाइपिंग स्किल टेस्ट के लिए उपलब्ध कराया जाता हैं।
  • सीनियर क्लर्क सह टाइपिस्ट, जूनियर अकाउंट्स असिस्टेंट कम टाइपिस्ट, सीनियर टाइम कीपर, जूनियर क्लर्क कम टाइपिस्ट, अकाउंट्स क्लर्क कम टाइपिस्ट जैसे पदों के लिए टाइपिंग स्किल टेस्ट (TST) क्वालिफाइंग प्रकृति का है,वहीं टाइपिंग स्किल टेस्ट में प्राप्त अंकों को मेरिट लिस्ट मे नहीं जोड़ा जाता हैं। टाइपिंग स्किल के लिए प्रत्येक समुदाय को रिक्त पदों की संख्या के आठ गुना के बराबर बुलाया जाता हैं।
  • टाइपिंग स्किल टेस्ट में छूट केवल उन अभ्यर्थियों को दी जाती है,जो 40% से कम स्थायी विकलांगता के साथ अंधापन / कम दृष्टि, सेरेब्रल पाल्सी(दिमागी अक्षमता) विकलांगता के कारण स्थायी रूप से अक्षम होते हैं।

(4) दस्तावेज़ सत्यापन (DV):

सीबीटी(कंप्यूटर आधारित टेस्ट )-1,सीबीटी -2 और टाइपिंग स्किल टेस्ट में उम्मीदवारों के प्रदर्शन के आधार पर रिक्तियों की संख्या के बराबर उम्मीदवारों को उनकी योग्यता और विकल्पों के अनुसार दस्तावेज़ सत्यापन के लिए बुलाया जाता हैं।

निष्कर्ष:

परीक्षा पैटर्न के बिना, आप परीक्षा में अच्छा अंक प्राप्त नहीं कर सकते। परीक्षा पैटर्न आत्मविश्वास को विकसित करने का तरीका है क्योंकि आप परीक्षा पैटर्न के अनुसार आसानी से अपनी तैयारी की योजना बना सकते हैं। यदि आपको आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा पैटर्न के बारे में कोई समस्या है या कोई प्रश्न है, तो मुझसे टिप्पणी अनुभाग में पूछें।

Choose from these tabs.