प्रतियोगी परीक्षाओं के अभ्यास के लिए राजस्थान इतिहास प्रश्न

Babu Lal Kumawat11 months ago 1.3K Views Join Examsbookapp store google play
 Rajasthan History Questions for Competitive Exams

आज इस  बेरोजगारी के दौर में सरकारी नौकरियों की महत्वता और भी बढ़ गई है इस कारण राजस्थान की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं का महत्वपूर्ण विषय राजस्थान इतिहास है | इसी कारण Examsbook आपको महत्वपूर्ण राजस्थान इतिहास प्रश्न और उत्तर ब्लॉग में राजस्थान इतिहास के सभी अध्यायों के प्रश्नों का समावेश करता है जैसे राजस्थान इतिहास की सभी महत्वपूर्ण घटनाओ का वर्णन, सभी राजपूत शासकों कालक्रम,  प्राचीन काल की सभी सभ्यतायें, मध्यकाल में युद्ध और प्रशासन की विधियाँ,  आधुनिक काल के सभी आँदोलन घटनाओ आदि सभी मुख्य बिंदुओं के प्रश्नों को शामिल किया गया है| 

राजस्थान की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के मद्देनजर रखते हुए यहाँ इस ब्लॉग में राजस्थान के इतिहास से सम्बन्धित लगभग 50 वस्तुनिष्ठ प्रश्नो की सूची उपलब्ध करवा रहे हैं। जो सभी प्रतियोगिता परीक्षाओं जैसे-  RPSC Exams, RSMSSB Exams, CET Exams, RAS, 1st grade, 2nd grade, REET, Patwari, Rajasthan SI, Rajasthan police, LDC, UDC, Gram Sevak, High court, के लिए अति आवश्यक प्रश्न है आपके Exams में बहुत उपयोगी साबित हो सकते है| 

राजस्थान इतिहास प्रश्न

Q :  

अघोंलिखित कथनों को सावधानीपूर्वक पढ़िए -

(i) 19 वीं सदी के उत्तरार्द्ध में, मेवाड़ में देश हितेषिणी सभा की स्थापना की गयी।

(ii) सभा का मुख्य उद्देश्य समाज सुधार था।

सही कूट चुनिए-

(A) केवल कथन (i) सत्य है।

(B) केवल कथन (ii) सत्य है।

(C) न तो (i) ना ही (ii) सत्य है।

(D) दोनों कथन सत्य हैं।


Correct Answer : D

Q :  

निम्नलिखित में से कौनसा (राजनीतिक कार्यकर्ता - संबंधित देशी राज्य) सुमेलित नहीं है?

(A) कृष्णदत्त पालीवाल - धौलपुर

(B) हरिमोहन माथुर - करौली

(C) मथुरादास माथुर - मारवाड़

(D) गोपीलाल यादव - भरतपुर


Correct Answer : B

Q :  

पृथ्वीराज चौहान ने………से विवाह किया था। वह उसके शत्रु जयचंद गढ़वाल की पुत्री थी।

(A) सोम्युकता

(B) सौम्यावती

(C) कृष्णवती

(D) पूर्वावती


Correct Answer : A

Q :  

विजयसिंह पथिक ने किस समाचार पत्र के माध्यम से बिजौलिया किसान आन्दोलन का प्रचार पूरे भारत में कर दिया था?

(A) नवीन राजस्थान

(B) तरुण राजस्थान

(C) युगान्तर

(D) प्रताप


Correct Answer : D
Explanation :

1. विजय सिंह पथिक, जिन्हें राष्ट्रीय पथिक के रूप में जाना जाता है, एक भारतीय क्रांतिकारी थे। उनका असली नाम भूप सिंह था।

2. वे पहले भारतीय क्रांतिकारियों में से थे जिन्होंने ब्रिटिश शासन के खिलाफ स्वतंत्रता आंदोलन की मशाल जलाई थी।

3. मोहनदास करमचंद गांधी द्वारा सत्याग्रह आंदोलन शुरू करने से बहुत पहले, पथिक ने बिजोलिया के किसान आंदोलन के दौरान सत्याग्रह आंदोलन का प्रयोग कर लिया था।

4. विजयसिंह पथिक ने प्रताप समाचार पत्र के माध्यम से बिजौलिया किसान आन्दोलन का प्रचार पूरे भारत में कर दिया था?


Q :  

राजस्थान में अंत्योदय योजना किस मुख्यमंत्री के कार्यालय में प्रारंभ की गई थी -  

(A) हरिदेव जोशी

(B) शिवचरण माथुर

(C) भैरों सिंह शेखावत

(D) जगन्नाथ पहाड़िया


Correct Answer : C
Explanation :

1. राजस्थान में अंत्योदय योजना भैरोसिंह शेखावत के मुख्यमंत्री कार्यालय में 1977 में प्रारंभ की गई थी। यह योजना राजस्थान के सबसे गरीब परिवारों को सहायता प्रदान करने के लिए शुरू की गई थी। इस योजना के तहत, गरीब परिवारों को खाद्यान्न, शिक्षा, स्वास्थ्य, और आवास जैसी बुनियादी सुविधाओं तक पहुंच प्रदान की जाती है।

2. भैरोसिंह शेखावत राजस्थान के मुख्यमंत्री 1977 से 1980 तक रहे थे। वे भारतीय जनता पार्टी के सदस्य थे। उन्होंने राजस्थान में कई महत्वपूर्ण योजनाओं और नीतियों को शुरू किया, जिनमें अंत्योदय योजना भी शामिल है।


Q :  

राजस्थान की कौन सी सभ्यता बनास, बेड़च, वागन, गंभीरी और कोठारी नदियों के तटों और घाटियों में फैली हुई थी?

(A) कालीबंगा

(B) आहड़

(C) गणेश्वर

(D) बैराठ


Correct Answer : B
Explanation :
सही उत्तर अहार सभ्यता है। अहार सभ्यता, जिसे बनास संस्कृति के नाम से भी जाना जाता है, दक्षिण-पूर्वी राजस्थान के अहार नदी के तट पर एक ताम्रपाषाणिक पुरातात्विक संस्कृति है, जो ईसा पूर्व से चली आ रही है।



Q :  

मालदेव की किस रानी ने मण्डोर के निकट 'बहुजी - रो - तालाब' का निर्माण करवाया था?

(A) हीरा दे झाली

(B) स्वरूप दे झाली

(C) उमा दे भटियानी

(D) पारबती सिसोदेनी


Correct Answer : B
Explanation :

1. मालदेव मारवाड़ का एक भारतीय शासक था, जिसे बाद में जोधपुर के नाम से जाना गया।

2. मालदेव ने जोधपुर के किले का विस्तार किया और रानीसर के आसपास की संरचना को मजबूत किया।

3. किले के इलाके में अतिक्रमण से चिडियानाथ की पराजय हुई।

4. उनकी रानी स्वरूप डी झाली, जिन्होंने 'मंडोर के पास 'बहूजी रो तालाब' का निर्माण किया।


Q :  

राजस्थान की किस सभ्यता को “ताम्रसंचयी" के नाम से भी जाना जाता है?

(A) गणेश्वर

(B) बागौर

(C) आहाड

(D) गिलुण्ड


Correct Answer : A
Explanation :

1. गणेश्वर सभ्यता -

- स्थान - गणेश्वर (सीकर) थाना "नीम का थाना"

- नदी - काँतली नदी यह एक आन्तरिक प्रवाह वाली नदी है। कांतली इसलिये कहते हैं। क्योंकि यह अपरदन ज्यादा करती है ।

2. गणेश्वर सभ्यता उपनाम-

- ताम्रसंचयी सभ्यता भी कहते हैं।

- ताम्रकालीन सभ्यताओं में सबसे प्राचीन सभ्यता गणेश्वर सभ्यता ही है।

- भारत सभी ताम्रकालीन सभ्यताओं की जननी भी "गणेश्वर सभ्यता" ही कहते है। यहां तांबा सर्वाधिक मात्रा में मिला है।


Q :  

निम्नलिखित को सुमेलित कीजिए और नीचे दिए गए कूट से सही उत्तर का चयन कीजिए-

समाचार-पत्र                              प्रकाशन का स्थान

(i) प्रजा सेवक                          (1) जयपुर

(ii) नवीन राजस्थान                 (2) अजमेर

(iii) लोकवाणी                         (3) जोधपुर

(iv) सज्जन कीर्ति सुधाकर       (4) उदयपुर

कूट –

(A) (i)-1, (ii)-2, (iii)-3, (iv)-4

(B) (i)-3, (ii)-2, (iii)-1, (iv)-4

(C) (i)-4, (ii)-3, (iii)-2, (iv)-1

(D) (i)-4, (ii)-3, (il)-1, (iv)-2


Correct Answer : B
Explanation :

सभी कूटों में सही उत्तर का चयन हैं -

समाचार-पत्र                           प्रकाशन का स्थान

(i) प्रजा सेवक                          (3) जोधपुर

(ii) नवीन राजस्थान                  (2) अजमेर

(iii) लोकवाणी                          (1) जयपुर

(iv) सज्जन कीर्ति सुधाकर        (4) उदयपुर


Q :  

स्वामी दयानंद सरस्वती पहली बार 1865 ई. में के राजकीय अतिथि के रूप में राजस्थान आए थे-

(A) जयपुर

(B) जैसलमेर

(C) उदयपुर

(D) करौली


Correct Answer : D
Explanation :
दयानंद सरस्वती पहली बार जून 1865 में करौली के राज्य अतिथि के रूप में राजस्थान आए थे। उन्होंने किशनगढ़, जयपुर, पुष्कर, और अजमेर में व्याख्यान दिए। दयानंद सरस्वती के आने का दूसरा समय था जब वे 1881 में भरतपुर, राजस्थान आए।



Showing page 1 of 5

    Choose from these tabs.

    You may also like

    About author

      Report Error: प्रतियोगी परीक्षाओं के अभ्यास के लिए राजस्थान इतिहास प्रश्न

    Please Enter Message
    Error Reported Successfully