SSC MTS परीक्षा पैटर्न और सिलेबस

3 months ago 180 Views
NEW EcQyKKefSSC-MTS-Exam-Pattern.webp

कर्मचारी चयन आयोग एमटीएस(MTS) यानि मल्टी टास्किंग स्टाफ के रिक्त पदों पर भर्ती के लिए हर साल इच्छुक युवाओं से हजारों आवेदन मांगती हैं। बता दें कि मल्टी टास्किंग स्टाफ पद पर अभ्यर्थियों को कार्यलय से जुड़े कार्य करने होते हैं, जो प्रत्येक कार्य में सहायता करने होते हैं। यदि आप भी एसएससी एमटीएस(SSC MTS) प्रतियोगी परीक्षा पास करने के इच्छुक हैं, तो सबसे पहले आपको इसकी रणनीति समझने की जरुरत हैं।

SSC MTS परीक्षा सिलेबस को जानना जितना जरुरी हैं, उतना ही SSC MTS एग्जाम पैटर्न को जानना महत्वपूर्ण होता हैं। क्योंकि आवेदक को यह पता होना आवश्यक हैं कि एमटीएस परीक्षा किस ढ़ंग से आयोजित की जाती हैं। तो चलिए पहले जानते हैं तो SSC MTS एग्जाम पैटर्न को, जिसके बाद SSC MTS परीक्षा सिलेबस को जानने की आवश्यकता हैं। ध्यान दें  

एसएससी एमटीएस(MTS) – नवीनतम परीक्षा पैटर्न

कर्मचारी चयन आयोग द्वारा दो चरणो में एसएससी एमटीएस प्रतियोगी परीक्षा का किया जाता हैं।

  1. चरण 1 – लिखित परीक्षा
  2. चरण 2 – वर्णनात्मक परीक्षा

(1) चरण 1 – लिखित परीक्षा: 

SSC MTS परीक्षा पैटर्न के अनुसार, इसमें रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस, न्यूमेरिकल एप्टीट्यूड, जनरल इंग्लिश जैसे चार विषयों को शामिल किया जाता हैं। पहले चरण(पेपर-1) में बहुउद्देशीय वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं, जो कि एक कम्प्युटर आधारित परीक्षा हैं। सरल शब्दों में कहें तो इस परीक्षा को देने के लिए प्रत्येक अभ्यर्थी को परीक्षा क्रेंद मे एक कम्प्युटर दिया जाता हैं,जिसमें पेपर-1 का प्रश्न पत्र आता हैं और उसी कम्प्युटर में आवेदको को उत्तर देना होता हैं।

एग्जाम पैटर्न की कुछ अन्य महत्वपूर्ण बातें इस प्रकार से हैं-

पार्ट

विषय

सवालों की संख्या

अधिकतम अंक

परीक्षा की अवधि

जनरल इंटेलिजेंस ऐंड रीजनिंग

25

25

90 मिनट

बी

जनरल अवेयरनेस

25

25


सी

न्यूमेरिकल एप्टीट्यूड

25

25


जी

जनरल इंग्लिश

25

25



कुल

100

100


नोट-

  • SSC MTS परीक्षा का पहला चरण कम्प्यूटर आधारित परीक्षा(CBE) एक लिखित परीक्षा हैं।
  • SSC MTS परीक्षा का पेपर 1 ऑनलाइन आयोजित किया जाता हैं।
  • SSC MTS  पेपर 1 में प्रश्न-पत्र को 4 भागों में विभाजित किया जाता हैं, जिसमें कुल 100 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • बता दें कि परीक्षा मे पूछे गये सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ (ऑब्जेक्टिव) प्रकार के होते हैं।
  • इसमें हर एक विषय से 25 प्रश्न पूछे जाते हैं प्रत्येक प्रश्न में चार विकल्प होते हैं जिसमे केवल एक ही सही विकल्प का चयन करना होता हैं।
  • परीक्षा में प्रत्येक सही उत्तर के लिए 1 अंक दिया जाता हैं।
  • SSC MTS परीक्षा में प्रश्न के प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.25 अंक की नैगेटिव मार्किंग की जाती हैं।
  • यह पेपर हिंदी और अंग्रेजी दोनो भाषा में आयोजित की जाती हैं, आवेदक अपनी सुविधानुसार दोनो भाषाओं में से किसी एक का चयन कर सकते हैं।
  • परीक्षा की अवधि सीमा पात्र PwBD उम्मीदवारों के लिए 120 मिनट(2 घंटा) होती हैं।
  • इस परीक्षा को पास करने के बाद उम्मीदवार दूसरे चरण में प्रवेश कर सकते हैं।

(2) चरण 2 – वर्णनात्मक परीक्षा:

SSC MTS परीक्षा पैटर्न के अनुसार,दूसरे चरण(पेपर 2) की परीक्षा एक वर्णनात्मक पेपर होता हैं, जिसे ऑफलाइन आयोजित किया जाता हैं। सरल शब्दों में कहें तो इस परीक्षा को देने के लिए प्रत्येक अभ्यर्थी को पेन और पेपर का उपयोग करना होता हैं। इस परीक्षा में केवल वहीं उम्मीदवार दूसरे चरण में उपस्थित हो सकते हैं,जिन्होंने पेपर-1 की परीक्षा उत्तीर्ण कि हो।

एग्जाम पैटर्न की कुछ अन्य महत्वपूर्ण बातें इस प्रकार से हैं-

विषय

अधिकतम अंक

परीक्षा की अवधि

अंग्रेजी में लघु निंबंध/पत्र या किसी भी भाषा में जिसे संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल किया गया हो

     50

 30 मिनट

नोट-

  • SSC MTS परीक्षा का पेपर-2 क्वालिफाइंग प्रकृति का होता हैं। और यह पेपर उम्मीदवार की भाषा कुशलता, व्याकरण, शब्दावली उपयोग, लेखन कौशल ज्ञान का परीक्षण करता हैं।
  • पेपर-2 मे Essay और Letter को शामिल किया जाता हैं जिसमें से उम्मीदवार को अपने चयन के साथ दोनो में से किसी एक का चुनाव करना होता हैं,या तो Essay लिख सकते है या फिर Letter लिख सकते हैं।
  • उम्मीदवार को 30 मिनट की अवधि में लगभग 250 शब्दों में एक निंबंध लिखना होता हैं। या फिर 150 से 200 शब्दों तक एक पत्र/आवेदन लिखना होता हैं।
  • इस परीक्षा में पास होने के लिए आपको कम से कम 33% अंक प्राप्त करने होते हैं।
  • यह पेपर हिंदी और अंग्रेजी दोनो भाषा में आयोजित की जाती हैं, आवेदक अपनी सुविधानुसार दोनो भाषाओं में से किसी एक का चयन कर सकते हैं।
  • परीक्षा की अवधि सीमा पात्र PwBD उम्मीदवारों के लिए 45 मिनट होती हैं।

उम्मीदवरों को SSC MTS परीक्षा द्वारा सरकारी विभाग में नौकरी प्राप्त करने के लिए पेपर-1 और पेपर-2 को पास करना अनिवार्य होता हैं।

एसएससी एमटीएस(MTS) परीक्षा सिलेबस:

SSC GD परीक्षा के पहले चरण में 4 विषयों जैसे जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस, न्यूमेरिकल एप्टीट्यूड, जनरल इंग्लिश के प्रश्न पूछे जाते हैं। जो निम्न प्रकार से हैं-

जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग -

इस परीक्षण का मुख्य उद्देश्य आवेदको की मानसिक क्षमता,सामान्य रक्त संबंध और तार्किक शक्ति की जांच करना होता हैं। इसमे उपमाएँ, वर्णमाला और संख्या श्रृंखला, कोडिंग और डिकोडिंग, गणितीय संक्रियाएँ, संबंध, डेटा व्याख्या और दक्षता, निष्कर्ष और निर्णय करना, समानताएँ और अंतर, विश्लेषणात्मक तर्क, वर्गीकरण, निर्देश, कथन - तर्क और मान आदि को शामिल किया जाता हैं।

जनरल अवेयनेस -

SSC MTS परीक्षा में CBE का यह भाग उम्मीदवार के आस-पास के माहौल,वर्तमान में हो रही घटनाओं के ज्ञान और समाज की सामान्य जागरुकता का परीक्षण करना होता हैं। सामान्य ज्ञान के विषय में पूछे गये प्रश्नों मे वर्तमान मामलों का ज्ञान, भारतीय भूगोल, संस्कृति और भारत का इतिहास जिसमें स्वतंत्रता संग्राम, भारतीय राजनीति और संविधान, भारतीय अर्थव्यवस्था, भारत और विश्व से संबंधित पर्यावरणीय मुद्दे, खेल, सामान्य वैज्ञानिक और तकनीकी विकास आदि शामिल होते हैं।

जनरल इंग्लिश -

अंग्रजी भाषा का विषय एसएससी की सभी परीक्षाओं में एक कॉमन सब्जेक्ट है। इसका विषय का उद्देश्य उम्मीदवार की बुनियादी समझ, हिंदी/अंग्रेजी भाषा के सही व्याकरण उपयोग,शब्दावली उपयोग और लेखन क्षमता की जांच करना होता हैं। इसमे स्पॉट एरर ,फील इन द ब्लैंक्स ,सीनोनिम्स /होनोनिम्स ,अंटोनिम्स ,स्पेलिंग /डिटेक्टिंग-मिस स्पेल्ट वॉर्ड ,इडियम्स एन्ड फ्रांसेस,वन वॉर्ड सब्स्टिटूशन,इम्प्रूवमेंट ऑफ़ सेंटेन्सेस,एक्टिव/पैसिव  वॉइस ऑफ़ वर्ब्स आदि जैसे प्रश्न आते हैं।

न्यूमेरिकल एप्टीट्यूड -

एसएससी एमटीएस परीक्षा का यह भाग आवेदको के गणितीय कौशल   का परीक्षण करता हैं। प्रथम चरण सीबीटी के अंतर्गत गणित विषय मे संख्या प्रणाली,बीजगणित,अनुपात,ब्याज,प्रतिशत, सरलीकरण, ज्यामिति,औसत, दशमलव,अनुपात, प्रतिशत, समय और कार्य, समय और दूरी, सरल और चक्रवृद्धि ब्याज, लाभ और हानि, ज्यामिति, त्रिकोणमिति, त्रिकोणमिति, प्राथमिक सांख्यिकी, स्क्वायर रूट, आयु गणना, कैलेंडर और घड़ी इत्यादि जैसे प्रश्न पूछे जाते हैं।

निष्कर्ष:

किसी भी परीक्षा की सही समझ होने पर एक उम्मीदवार एग्जाम क्रैक करके अच्छे अंक प्राप्त करता है। आज हमने इस लघु लेख मे SSC MTS के परीक्षा पैटर्न और पाठ्यक्रम से जुड़ी विस्तृत जानकारी प्रदान की है जिसमें लिखित परीक्षा और वर्णनात्मक परीक्षा शामिल हैं। हमे उम्मीद है कि हमारे द्वारा अपडेट की गई यह आवश्यक जानकारी आपको आत्मविश्वास हासिल करने और परीक्षा की तैयारी करने में सहायक होगी। यदि आपको एमटीएस परीक्षा पैटर्न और सिलेबस के बारे में कोई समस्या है या कोई प्रश्न है, तो आप हमे कमेंट सेक्शन में कमेंट कर पूछ सकते हैं-

Choose from these tabs.

You may also like

  Report Error: SSC MTS परीक्षा पैटर्न और सिलेबस

Please Enter Message
Error Reported Successfully